Israel-Hamas War: हमास के खिलाफ तेज होगा इजरायल का ऐक्शन, अमेरिका ने भेजे हाईटेक हथियार

334
Israel-Hamas War
Israel-Hamas War

Israel-Hamas War: हमास के ताबड़तोड़ रॉकेट हमलों के बाद इजरायल का ऐक्शन भी जारी है। खबर है कि इजरायल की सेना ने हमास के खिलाफ भी अब हमले तेज करने की तैयारी कर ली है। इधर, इजरायल को अमेरिका राष्ट्रपति जो बाइडेन का भी साथ मिल गया है। आंकड़े बता रहे हैं कि इस संघर्ष में अब तक 600 से ज्यादा इजरायली नागरिक और हमास में 500 जान गंवा चुके हैं।

क्या है इजरायल-फिलिस्तीन विवाद?

मध्य-पूर्व के इस इलाके में यह संघर्ष 100 वर्षों से चला आ रहा है। यहां वेस्ट बैंक, गाजा पट्टी और गोलन हाइट्स जैसे इलाकों पर विवाद है। फलस्तीन इन इलाकों समेत पूर्वी येरुशलम पर हक जताता है। वहीं, इजरायल येरुशलम से अपना दावा छोड़ने को राजी नहीं है। इजरायल और मिस्र के बीच में गाजा पट्टी है। इस पर फिलहाल हमास का कब्जा है। यह इजरायल विरोधी समूह है।

सितंबर, 2005 में इजरायल ने गाजा पट्टी से अपनी सेना वापस बुला ली थी। 2007 में उसने इस इलाके पर कई प्रतिबंध लगा दिए। उधर, फलस्तीन का कहना है कि वेस्ट बैंक और गाजा पट्टी में स्वतंत्र फलस्तीन राष्ट्र की स्थापना हो।

भारत का साथ चाहता है इजरायल

भारत में इजरायल के राजदूत नाओर गिलोन ने संवाददाताओं से बातचीत के दौरान आरोप लगाया कि इन हमलों के पीछे ईरान का हाथ है और उसने ही हमास को हथियारों की आपूर्ति की। गिलोन ने कहा कि उनके देश को ‘हमारे भारतीय मित्रों’ के बहुत मजबूत समर्थन की आवश्यकता होगी। उन्होंने कहा, ‘भारत दुनिया का एक बहुत प्रभावशाली देश है। यह एक ऐसा देश है, जो आतंकवाद (के दर्द) से परिचित है और इस संकट को समझता है।’

इजरायल में कई अमेरिकी नागरिकों की भी मौत

रविवार को अमेरिका ने कहा कि हमास के हमले में इजरायल में अमेरिका के कई नागरिकों की मौत हो गई है। एक अधिकारी ने कहा, ‘हम कई अमेरिकी नागरिकों की मौत की पुष्टि करते हैं।’ राष्ट्रपति जो बाइडेन पहले ही इजरायल को पूरा समर्थन देने की बात कह चुके हैं। पेंटागन ने जानकारी दी है कि कई युद्धपोतों को रवाना किया गया है।

मोसाद दुश्मन देशों के खिलाफ रणनीति बनाने में जुटी

इजरायल के लिए चुनौती सिर्फ हमास के आतंकी नहीं बल्कि उसकी सीमा से लगे अन्य देश भी हैं। इस कड़ी में लेबनान के हिजबुल्लाह समूह ने इस हमले का फायदा उठाना शुरू कर भी दिया है। इजरायल को आशंका है कि लेबनान के अलावा जॉर्डन, ईरान, सीरिया और मिस्र भी उसके खिलाफ कोई रणनीति बना सकता है। एक रिपोर्ट में दावा किया गया है कि इजरायल की खुफिया एजेंसी मोसाद ने ऐसी किसी भी आशंका से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है।

अमेरिका ने इजरायल के लिए भेजे सैन्य उपकरण

अमेरिका पूर्वी भूमध्य सागर में युद्धपोतों का एक समूह भेज रहा है, क्योंकि हमास आतंकवादियों के घातक हमले के बाद इजरायल ने जवाबी कार्रवाई की है जिसमें सैकड़ों लोग मारे गए थे। रक्षा सचिव लॉयड ऑस्टिन ने रविवार को कहा कि राष्ट्रपति जो बाइडेन के साथ चर्चा के बाद उन्होंने यूएसएस गेराल्ड आर। फोर्ड कैरियर स्ट्राइक ग्रुप को क्षेत्र में जाने का निर्देश दिया। समूह में एक विमानवाहक पोत, एक निर्देशित मिसाइल क्रूजर और निर्देशित मिसाइल विध्वंसक शामिल हैं।

गाजा में 313 फिलिस्तीनी मारे गए

उन्होंने कहा कि यह बमबारी के पिछले दौर से अलग था, जिसके दौरान इज़रायली सुरक्षा बलों ने निवासियों को हमले से पहले खाली करने के लिए कहा था। फिलिस्तीन के स्वास्थ्य मंत्रालय ने रविवार को बताया कि शनिवार से गाजा में इजरायली हवाई हमलों में 20 बच्चों सहित कम से कम 313 फिलिस्तीनी मारे गए हैं और लगभग 2,000 घायल हुए हैं।

कई लोग लापता, इजरायली पुलिस से पूछ रहे पता

अरगामनी के दोस्तों और परिवार ने उसे सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में पहचान लिया। वीडियो में दिखाया गया है कि कुछ लोग उसे चिल्लाते हुए मोटरसाइकिल पर ले जा रहे हैं। गाजा पट्टी से बड़े पैमाने पर फिलिस्तीनी घुसपैठ के मद्देनजर खोए हुए लोगों के बारे में जानकारी पाने की उम्मीद में सैकड़ों इजरायलियों ने एक पुलिस स्टेशन में अपील की है।

इजराइल में हमास के हमलों में नेपाल के 10 नागरिकों की मौत

रॉकेट हमलों में इजराइल में नेपाल के 10 नागरिकों की मौत हो गयी तथा चार अन्य घायल हुए हैं। विदेश मंत्रालय ने सोमवार को यह जानकारी दी। नेपाल के विदेश मंत्रालय ने यहां एक बयान में बताया कि इजराइल में हमास के हाल के हमले में 10 नेपाली नागरिकों की मौत हो गयी। उसने बताया कि किब्बुत्ज एलुमिम में एक खेत में काम कर रहे नेपाल के 17 नागरिकों में से दो को सुरक्षित बचा लिया गया, चार घायल हो गए तथा एक अभी लापता है।

Previous articleMP Election 2023: चुनाव की तारीखों के ऐलान के बाद आज BJP जारी कर सकती है प्रत्याशियों की चौथी लिस्ट, MP में 17 नवंबर को वोटिंग
Next articleIND vs PAK: बाबर ने भारत पाक मुकाबले से पहले कप्तानी को लेकर दिया बड़ा स्टेटमेंट