डूडा फुल फॉर्म हिंदी में – DUDA full form in Hindi

1012
DUDA full form in Hindi
डूडा फुल फॉर्म हिंदी में - DUDA full form in Hindi

DUDA full form in Hindi: क्‍या आप जानना चाहते है DUDA full form क्‍या होता है? हिंदी में डूडा का अर्थ क्‍या होता है? DUDA किसे कहते है? तो इन सभी सवालों के जवाब और जानकारी आपको इस आर्टीकल में मिल जाएगी।

देश में कई राज्‍यों में शहरी विकास के लिए जिला स्‍तर पर DUDA की स्‍थापना की गई है। यह एजेंसी शहरी विकास के लिए कार्य करती है। जिसमें सडक निर्माण, स्‍थानिय पार्क, स्‍ट्रीट लाईट का सुशोभिकरण तथा विस्‍तार, जिर्णोध्‍दार, सरकारी योजनाए ऐसे कई कार्य DUDA के माध्‍यम से किए जाते है।

डूडा फुल फॉर्म हिंदी में – DUDA full form in Hindi

DUDA ka full form होता है District Urban Development Agency. हिंदी में इसका अर्थ होता है “जिला शहरी विकास एजेंसी”। तेजी से हो रहे शहरीकरण के मद्देनजर यह एजेंसी विकास कार्यो को करने का काम करती है। शहरों के विकास के लिए इस एजेंसी की भुमिका महत्‍वपूर्ण है।

What is DUDA? डूडा क्या है?

डूडा मतलब District Urban Development Agency। यह एजेंसी सरकार द्वारा जिला स्‍तर पर स्‍थापित की जाती है। यह एजेंसी जिले के नगरपालिकाओं को अनुदान आवंटित करने का काम करती है। जिला ग्रामीण विकास एजेंसी (DRDA) की तर्ज पर DUDA की स्‍थापना की गई है।

जिला स्‍तर पर विभिन्‍न योजनाओं के गुणवत्‍ता और मानकों को सुनिश्चित करने का काम भी यह एजेंसी करती है। शहरी विकास के लिए राज्‍य स्‍तर के नोडल एजेंसी से प्राप्‍त आदेशों का पालन करना, बुनियादी कार्यो की नियमित रूप से जांच करना, शहरी गरीबों की गरीबी दूर करणे के लिए प्रयास करना, इसके साथ साथ विभिन्‍न योजनाओं के कार्यान्‍वयन के लिए यह एजेंसी कार्य करती है।

पहले शहरी विकास के लिए विभिन्‍न विभागों मे समन्‍वय की कमी थी। इसलिए DRDA की तर्ज पर DUDA की स्‍थापना की गई है। इस एजेंसी की स्‍थापना करने के बाद नगरपालिकाओं के माध्‍यम से शहरी विकास कार्यो में तेजी आर रही है।

दोस्‍तो, आशा है की, आपने DUDA क्‍या है? DUDA का फुल फॉर्म क्‍या है? इसके साथही डूडा के बारे मे कई महत्‍वपूर्ण जानकारी हासिल की होगी। इसी तरह की और भी जानकारी के लिए आप इस पोर्टल के दूसरे आर्टीकल भी पढ सकते है।

Source: hindi.newsclick.in

और भी खबरों को पढ़ने के लिए हमें गूगल न्यूज (Google News) पर फॉलो करें

Previous articleयूपी: बदहाल स्वास्थ्य व्यवस्था के बीच करोड़ों की दवाएं बेकार, कौन है ज़िम्मेदार?
Next articleगोरखपुर समाचार: शादी समारोह में डीजे बजाने को लेकर हुई चाकूबाजी, एक की मौत, दूसरा गम्भीर