कार्यालय छोड़ गायब रहते हैं अधिकारी व कर्मचारी

1093

कुशीनगर के पडरौना जिला मुख्यालय पर स्थित पंचायत चुनाव कार्यालय में सूचना लेने आने वालों को निराश लौटना पड़ रहा है कर्मचारियों की मनमानी से नहीं हो रहा समस्याओं का समाधान।

कुशीनगर: पडरौना स्थित त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तैयारी में जुटे प्रशासनिक अफसरों के मातहत मनमानी करने से बाज नहीं आ रहे हैं। कार्यालय से गायब रहना उनकी आदत में शामिल हो गया है। सोमवार को दोपहर 12.10 से 1.50 तक ऐसा ही नजारा पंचायत चुनाव कार्यालय में देखने को मिला।

जागरण टीम जब कलेक्ट्रेट स्थित पंचायत कार्यालय में पहुंची तो मौके पर पंचायत के सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी की कुर्सी खाली मिली, अन्य कर्मचारी भी गायब रहे। पूछने पर अनुचर ने बताया कि साहब लोग काफी देर से नहीं हैं। इस दौरान तमकुहीराज से आए बलिराम गुप्ता ने बताया कि जिला पंचायत चुनाव के संबंध में कुछ जानकारी लेने के लिए कई दिनों से दौड़ रहा हूं। सहायक जिला निर्वाचन अधिकारी कभी मिल नहीं रहे हैं। खड्डा से आए नरेश प्रसाद ने कहा कि चुनाव संबंधी कुछ जानकारी के लिए दोपहर 12 बजे से बैठा हूं, कोई बताने वाला नहीं है। सभी एक दूसरे पर थोप रहे हैं। ऐसा ही कुछ कहना था हाटा के अंशु कुमार व रामकोला के विनय कुमार सिंह का। यह हाल तब है जब नामांकन की प्रक्रिया 17 अप्रैल से शुरू होने वाली है। ऐसे में अगर आयोग संबंधी जानकारियां लोगों को समय रहते नहीं मिलेगी तो जाहिर सी बात है कि वे नामांकन की तैयारियां नहीं कर पाएंगे।

अपर जिलाधिकारी विध्यवासिनी राय ने कहा कि कार्यालय छोड़ कर गायब रहना व लोगों को जरूरी सूचना न देना गंभीर मामला है। इसे दिखवा रहा हूं। अगर गड़बड़ी मिली तो संबंधित के खिलाफ कार्रवाई होगी।

कसया नगर में प्रशासन ने हटवाया अतिक्रमण

कसया नगर में गांधी चौक पर लगने वाले जाम से निजात के लिए सोमवार को प्रशासन ने गोरखपुर मार्ग की दोनों पटरियों पर अतिक्रमण कर बनाई गई दुकानों को बुलडोजर से तोड़वा दिया। यह कार्रवाई ज्वाइंट मजिस्ट्रेट पूर्ण बोरा ने नपा कर्मियों के साथ की।

ज्वाइंट मजिस्ट्रेट ने बताया कि गांधी चौक से जुड़े सभी प्रमुख मार्गों को अतिक्रमणमुक्त कराया जा रहा है। इससे जाम की समस्या समाप्त होगी, लोगों की राह आसान होगी और नगर सुंदर दिखेगा। ईओ प्रेमशंकर गुप्ता, ब्रजेश मणि त्रिपाठी, हरिशंकर सिंह, श्रवण तिवारी आदि शामिल रहे।

Previous articleकुशीनगर में आग से चार झोपड़ियां जलीं, सामान राख
Next articleनाइट कर्फ्यू: दिल्ली मेट्रो में रात 10 बजे के बाद सभी लोग नहीं कर पाएंगे सफर, जानिए क्या है DMRC का आदेश