पाकिस्तानी अदालत ने टिकटाक से हटाई रोक, चीनी एप पर अश्लीलता और अनैतिकता फैलाने का था आरोप

1018

पाकिस्तान की एक अदालत ने टिकटाक से रोक हटा ली है। सिंध हाई कोर्ट ने देश में अनैतिकता फैलाने के आरोप में इस चीनी वीडियो शेयरिंग एप पर पहले रोक लगा दी थी, लेकिन शुक्रवार को अपने इस आदेश को वापस ले लिया।

हाई कोर्ट ने गत 28 जून को देश के दूरसंचार प्राधिकरण को टिकटाक एप को निलंबित करने का आदेश दिया था। कोर्ट ने यह आदेश एक अर्जी पर दिया, जिसमें यह कहा गया था कि यह चीनी एप अश्लीलता और अनैतिकता फैला रहा है।

इस मामले की शुक्रवार की सुनवाई में प्राधिकरण ने कोर्ट को बताया कि टिकटाक को ब्लाक कर दिया गया है। साथ ही कोर्ट से अपने फैसले की समीक्षा करने और एप को बहाल करने का आग्रह किया। कोर्ट ने रोक हटाने संबंधी आग्रह को स्वीकार करते हुए प्राधिकरण से कहा कि वह याचिकाकर्ता की शिकायत पर पांच जुलाई तक कदम उठाए।

यह भी पढ़ें : 3 अंतरिक्ष यात्रियों को लेकर नए अंतरिक्ष स्टेशन पर पहुंचा चीनी यान

पहली बार अक्टूबर 2020 में इस एप को कुछ दिन के लिए किया गया था बैन

मार्च में पेशावर हाई कोर्ट ने पाकिस्‍तान टेलिकम्‍यूनिकेशन ऑथरिटी (पीटीए) को इस टिकटाक एप को समाज में अश्‍लीलता फैलाने के आरोप में प्रतिबंधित करने का आदेश सुनाया था। कोर्ट ये ये आदेश में इस एप के खिलापु दायर एक याचिका पर सुनाया था। इससे पहले पिछले वर्ष अक्‍टूबर में भी पाकिस्‍तान में इस एप को कुछ दिनों के लिए गलत कंटेंट प्रसारित करने के आरोप में बंद कर दिया गया था। हालांकि बाद में पीटीए ने एप कंपनी को चेतावनी देकर इसकी दोबारा शुरुआत करने की मंजूरी दे दी थी। पीटीए ने साफ कर दिया था कि एप किसी भी तरह के ऐसे कंटेट को नहीं दिखाएगा जो देश की संस्‍कृति और उसके नियमों के खिलाफ हो और समाज में किसी भी तरह के अंनैतिक कृत्‍यों और अश्‍लीलता को बढ़ावा देता हो।

Previous articleकुशीनगर जिला पंचायत सीट पर बीजेपी की जीत, सावित्री जायसवाल बनी जिला पंचायत अध्यक्ष
Next articleयूपी-बिहार सहित इन राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट