कुशीनगर में पछुआ ने मचाई तबाही, दो मवेशी जिदा जले

1106
कसया तहसील क्षेत्र के परवरपार गांव में गुड्डू यादव का जला घोट्ठा पांच झोपड़ियां राखआग बुझने के बाद पहुंचा दमकल।

कुशीनगर : कसया तहसील के गांव परवरपार में तेज पछुआ हवा ने रविवार को तबाही मचा दी। अलाव की चिगारी से लगी आग से पांच झोपड़ियां जल कर राख हो गई। एक बछिया व एक पड़िया सहित दो मवेशी जिदा जलकर मर गए। एक बछिया गंभीर रूप से झुलस गई। घटना में लाखों रुपये नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है।

ग्रामीणों ने काफी मशक्कत के बाद आग बुझाई। आग बुझने के लगभग दो घंटे बाद दमकल पहुंचा। इसे लेकर ग्रामीणों ने फायर ब्रिगेड के प्रति आक्रोश भी जताया।

गांव के पूरब-दक्षिण दिशा में कुछ पशु पालकों का घोट्ठा बना है। फूस के घर में लकड़ी, अनाज रखे जाते हैं, वहीं पशु भी बांधे जाते हैं। रात में मच्छरों से बचाव के लिए जलाए गए कउड़ा में दबी चिगारी तेज हवा चलने के कारण छिटक गई, जिससे झोपड़ियों में आग लग गई। घटना में गुड्डू यादव की एक बछिया व रामदेव की एक पड़िया झुलस कर मर गईं, गुड्डू की एक बछिया झुलस गई है। इसके अलावस सुरेश, धर्मेंद्र व सुइट यादव का भी घोट्ठा जल कर नष्ट हो गया। पीड़ितों का कहना है कि लाखों का नुकसान हुआ है।

जूता-चप्पल की दुकान में लगी आग

रविवार सुबह छह बजे तमकुहीराज चौराहा पर स्थित तरयासुजान थाने के हरिहरपुर निवासी रफीक की चप्पल-जूता की दुकान में अज्ञात कारणों से आग लग गई। पीड़ित का कहना है कि 20 हजार रुपये के जूते-चप्पल व 25 हजार रुपये नकद जलकर राख हो गए। उन्होंने पुलिस को तहरीर दी है।

20 एकड़ गेहूं की फसल जल कर राख

कप्तानगंज थाने के गांव लक्ष्मीपुर में रविवार शाम को आग से 20 एकड़ से अधिक गेहूं की फसल जल कर राख हो गई। करीब दो घंटे की मशक्कत के बाद ग्रामीणों ने आग पर काबू पाया।

शाम को करीब पांच बजे पड़ोसी जिले महराजगंज के रामपुर गांव में भूषा बना रही मशीन से निकली चिगारी से गेहूं के खेत में आग लग गई। आस-पास मौजूद लोग आग बुझाने में जुट गए। हवा तेज होने से आग ने विकराल रूप ले लिया। आस-पास के सरेह भी जद में आ गए।

Previous articleकुशीनगर में थ्रेसर की चपेट में आने से महिला की मौत
Next articleसेना भर्ती रैली 2021 : इंडियन आर्मी में यूपी के 8वीं, 10वीं, 12वीं पास युवाओं के लिए भर्तियां, पढ़ें नोटिफिकेशन की खास बातें